Aadhar Card Kya hai आधार कार्ड कैसे अपडेट कर सकते हैं?

Aadhar Card Kya hai ?

आधार कार्ड के पहचान पत्र है जो भारत सरकार द्वारा भारत के नागरिकों के लिए जारी किया गया है। इसमें बारह अंकों का एक युनीक नंबर होता है जिसको भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण जारी करता है। आपको बता दें की यह आधार कार्ड पूरे भारत में न सिर्फ व्यक्ति के पहचान के लिए बल्कि उसके पते के प्रमाण के रूप में भी है ।

आधार कार्ड और ई-आधार कार्ड क्या है?

आधार कार्ड और ई-आधार कार्ड दोनों ही मान्य है। आधार कार्ड जो भारतीय डाक विभाग द्वारा और ई-आधार कार्ड जो भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी किया जाता है दोनों ही मान्य है। भारत का हर एक नागरिक आधार कार्ड के लिए अप्लाइ कर सकता है, लेकिन शर्त यह है की वह भारत का मूल निवासी हो ।

लेकिन यह जरूरी है की आधार कार्ड का आवेदक भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के द्वारा निर्धारित सभी शर्तों को पूरा करता हो चाहें वो व्यक्ति किसी भी उम्र अथवा लिंग का क्यों न हो! प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवन में एक बार ही नामांकन करवा सकता है । नामांकन एकदम निःशुल्क होता है । लेकिन एक बात का जरूर ध्यान रखें की आधार कार्ड सिर्फ एक पहचान पत्र है न की आपके नागरिकता का प्रमाण ।

यह सर्वविदित है आधार दुनिया का एक बड़ा Biometric ID प्रणाली है, जैसा की प्रसिद्ध अर्थशास्त्री पाल रोमर ने आधार को दुनियाँ में सबसे परिष्कृत पहचान पत्र कार्यक्रम के रूप में वर्णन किया है । यह सिर्फ पहचान और निवास का प्रूफ है नागरिकता का प्रूफ नहीं है ।

गृह मंत्रालय ने भी सन 2017 में यह स्पष्ट कर दिया था की नेपाल और भूटान की यात्रा करने वाले भारतीय लोगों के लिए आधार वैध दस्तावेज नहीं है । अतः आप आधार को नागरिकता प्रमाणित करने के लिए प्रयोग में नहीं ला सकते हैं ।

इसे भी चेक करें:Aadhar card mein photo kaise change kare

आधार कार्ड कौन जारी करता है?

आपको बता दें की भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण एलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय के अधीन आता है । आधार की शुरुवात जनवरी 2009 में शुरुवात हुआ था अर्थात बारह वर्ष पहले। UIDAI जिसका full form है-The Unique Identification Authority of India. इसमें 12 अंकों की यूनिक संख्या होता है इसी को आधार कहा जाता है। यह भारत के सभी नागरिकों के लिए जारी करना अनिवार्य है।

इस बारह अंकों वाली यूनिक नंबर के साथ ही व्यक्ति के बायोमेट्रिक जानकारी जैसे एक लाइव तस्वीर, उसके दस फिंगर प्रिन्ट और दो आइरिस स्कैन जुड़ा होता है । यह सब एक केंद्रित डटबेस में स्टोर हो जाता है।

आधार कार्ड कैसे अपडेट कर सकते हैं?

आधार कार्ड को ऑनलाइन और ऑफ़लाइन दोनों तरीकों से अपडेट किया जा सकता है ।अगर आपका आधार कार्ड खो गया है तो आप उसको पुनः प्राप्त कर सकते हैं अथवा अगर किसी प्रकार की गलती हुई है तो उसको पुनः सुधार सकते हैं । आधार कार्ड को ऑनलाइन डाउनलोड भी कर सकते हैं। ऑनलाइन डाउनलोड आधार कार्ड ई-आधार कार्ड कहलाता है।  इसकी वैल्यू पोस्टल द्वारा प्राप्त आधार कार्ड के बराबर ही होता है ।

इसे भी चेक करें: Virtual ID kya Hai Aur Virtual ID Kaise Generate Karen

लेकिन आप एक बात का जरूर ध्यान रखें की जब आप पहली बार अपना आधार कार्ड बनवा रहे हैन तो अपने आधार फॉर्म में एकदम सही नंबर डालें क्योंकि जब भी आप किसी भी प्रकार परिवर्तन भविष्य में करना चाहेंगे तो आपके रजिस्टर्ड मोबाईल नंबर पर OTP(वन टाइम पासवॉर्ड) आता है तभी किसी भी प्रकार का अपडेट आपके आधार कार्ड पर संभव है।

आधार कार्ड के लाभ?

अगर आज के समय में हमें सरकारी या अर्ध सरकारी किसी भी प्रकार की सेवा या लाभ लेना है तो हमारे पास आधार कार्ड जरूर होना चाहिए। आधार पर अंकित बारह अंकों यूनिक संख्या हर व्यक्ति के जीवन भर की पहचान होता है ।

आधार कार्ड के माध्यम से हर व्यक्ति विशेष को बैंकिंग,मोबाईल फोन कनेक्सन और अन्य सेवावों में हमेशा लाभ मिलेगा। यह आधार कार्ड किसी भी जाति,मजहब और भौगोलिक क्षेत्र के वर्गीकरण पर आधारित नहीं है। यह नकली पहचान को बड़ी संख्या में समाप्त करने में सक्षम है ।

आधार हैआधार नहीं है
यह एक बारह अंकों का यूनिक प्रत्येक भारतीय नागरिक का विशिष्ट पहचान हैबच्चों सहित यह मात्र एक अन्य तरह का कार्ड है ।
यह भारत के प्रत्येक निवासी के लिए पहचान के साथ ही पते का प्रूफ हैहर परिवार के लिए केवल एक आधार कार्ड पर्याप्त है ।
हर व्यक्ति को एक ही यूनिक पहचान आधार प्रदान किया जाएगा ।एक व्यक्ति मल्टीपल पहचान आधार नंबर पा सकता है ।
UIDAI किसी भी तरह के पहचान प्रमाणीकरण से संबंधित प्रश्नों का हाँ/न में उत्तर होगाUIDAI की सूचना पब्लिक और प्राइवेट एजेंसियाँ ले सकेंगी ।
आधार वैश्विक इंफ्रास्ट्रक्चर पहचान देगा की राशन कार्ड, पासपोर्ट आदि विभिन्न आधारित एप्लिकेसन द्वारा प्रयोग में लाया जा सकता है ।आधार अन्य पहचान पत्रों का स्थान ले लेगा ।
Demographic और बायोमेट्रिक के बेस पर हर व्यक्ति की यूनिक पहचान प्रूफ करता है ।धर्म,जाति एवं भाषा के आधार पर सूचना एकत्र नहीं करता है ।

इसे भी चेक करें: PVC Aadhaar Card क्या होता है: PVC आधार कार्ड कैसे और कहाँ से बनेगा ?

आधार कार्ड की उपयोगिता क्या है?

आज के समय में आधार की उपयोगिता सब अन्य आईडी और एड्रैस प्रूफ से ज्यादा बढ़ता जा रहा है । इसका प्रमुख कारण है इसका अन्य सभी दस्तावेजों से ज्यादा प्रामाणिक होना । अन्य सभी दस्तावेजों में हमेशा से गड़बड़ी हुई है और होती रहती है लेकिन आधार कार्ड में किसी भी प्रकार का गड़बड़ी होने का कोई अवसर नहीं है। आप आधार कार्ड का प्रयोग निम्न सेवाओं में प्रयोग कर सकते हैं जैसे-

  • बैंकिंग सेवाओ के लिए जैसे बचत खाता खोलना,जन धन खाता खोलना और अन्य प्रकार के खाता खोलना,
  • पासपोर्ट जारी करने हेतु,
  • एलपीजी की सब्सिडी लेने हेतु,
  • ट्रेन टिकट में छूट लेने हेतु,
  • सभी तरह के परीक्षाओं में बैठने हेतु,
  • बच्चों को नर्सरी में एडमिसन लेने हेतु,
  • प्राविडन्ट फंड लेने हेतु,
  • डिजिटल लाकर लेने हेतु,
  • संपत्ति का रजिस्ट्रेसन कराने हेतु,
  • छात्रों को छात्रवृति लेने हेतु,
  • आयकर रिटर्न भरने हेतु,
  • सिम कार्ड खरीदने हेतु

इस लेख में आज आपने क्या सीखा? आज हमने इस लेख के माध्यम से आप लोगों को यह बताने का प्रयास किया की आधार क्या है? यह कब शुरू किया गया था, इसको कौन जारी करता है? आधार है, आधार नहीं है और इसकी क्या उपयोगिता है। अगर आप लोगों को यह लेख पसंद आया होगा तो आप जरूर अपने सुझाव और कमेन्ट हमें शेयर करें ।

Leave a Comment