IAS FULL Form in Hindi| आईएएस का फुल फॉर्म क्या है

IAS FULL Form in Hindi: आज हम जानेंगे की आईएएस का full form क्या है, IAS को हिन्दी में क्या कहते हैं, IAS के लिए योग्यता क्या है, आईएएस के लिए उम्र सीमा क्या है,आईएएस के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है, आईएएस का वेतनमान क्या होता है, आईएएस कैसे बनें और आईएएस का syllabus क्या है, आईएएस की तैयारी कैसे करें और किन किन बातों का ध्यान रखें?

IAS क्या होता है?

IAS का फुल फॉर्म है Indian Administrative Service जिसे हिंदी में भारतीय प्रशासनिक सेवा कहते हैं। IAS एक उच्चतम अखिल भारतीय सेवा है। UPSC हर साल All India Services और Central Civil Services से संबंधित परीक्षाओं का आयोजन करता रहता है।

IAS को सिविल सर्विस इग्ज़ैमनैशन (Civil Services Examination-CSE) भी कहा जाता है। IAS परीक्षा का आयोजन हर साल यूपीएससी द्वारा होता है । यह अन्य विभिन्न प्रकार के 24 सेवाओं के बीच पदानुक्रम के शीर्ष पर है। आईएएस भारत में एक ठोस नौकरशाही है ।

Civil Services Examination में चयन होने वाले सभी उम्मीदवार केंद्र सरकार, स्टेट गवर्नमेंट और इसके साथ ही सार्वजनिक क्षेत्र में भी कार्य करते हैं । IAS उम्मीदवारों को दी जाने वाली सर्विसेज़ मुख्य रूप से होती है- कमिश्नर, कलेक्टर, कैबिनेट सचिव, मुख्य सचिव और और कई अन्य पद ।

इसे भी चेक करें- UPSC full form in Hindi | UPSC को हिंदी में क्या कहते हैं ?

IAS उम्र सीमा

IAS के लिए Age Limit का निर्धारण श्रेणी श्रेणी के अनुसार तय किया गया है । इसके लिए न्यूनतम उम्र सीमा 21 वर्ष से कम नहीं होना चाहिए । यहाँ अधिकतम उम्र सीमा के लिए हर वर्ग के अनुसार अलग अलग प्रकार से है ।

  • सामान्य वर्ग के लिए -32 वर्ष-6 वार
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए -35 वर्ष-9 बार
  • एससी/एसटी-37 वर्ग के लिए -कोई सीमा नहीं
  • आईएएस अधिकारी का कार्य(भूमिका)

आईएएस -सिविल सेवा परीक्षा में टॉप रैंक पाने वाले अभ्यर्थियों को आईएएस का पोस्ट दिया जाता है । ये संसद में बनने वाले कानून को अपने क्षेत्र में लागू करवाते हैं । इसके अतिरिक्त कई नई नीतियों या कानूनों को बनाने में भी अपनी मुख्य भूमिका निभाते हैं ।

इसके अलावा विभिन्न प्रकार के प्राकृतिक दुर्घटनाओं, आपदाओं, दंगों और अन्य राहत नीतियों पर कार्यवाही जैसी आपात स्थितियों को संभालते हैं ।

आईएएस बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ?

साथियों IAS बनने के लिए आपको विद्वान नहीं बुद्धिमान होना आवश्यक है । आप स्नातक पास है आपके लिए ठीक है । IAS बनने के लिए केवल स्नातक पास होना चाहिए । इसके ऊपर की डिग्री भी है तो चलेगा । कम नहीं होना चाहिए ।

आप स्नातक के अंतिम वर्ष में है तो भी आप परीक्षा दे सकते हैं । सब्जेक्ट  आपका कोई भी हो चलेगा, बस आपकी उसमें आपका ज्ञान काफी मजबूत होनी चाहिए ।

IAS ऑफिसर कैसे बनें?

इसके लिए सबसे पहले आपको UPSC इग्ज़ैम पास करना होगा । UPSC हर साल तीन परीक्षाओं का आयोजन करती है-प्रथम  प्रारम्भिक परीक्षा दूसरा मुख्य परीक्षा और तीसरा इंटरव्यू । लगभग 1000 अभ्यर्थी में से 24 पदों के लिए ही चुने जाते हैं ।

प्रारम्भिक परीक्षा का आयोजन:- प्रारम्भिक परीक्षा में दो पेपर होते हैं । पहला  पेपर सामान्य अध्ययन(General Study) का है जिसमें 100 प्रश्न होते हैं । दूसरा पेपर CSAT का है । यह एक प्रकार से Aptitude Test है जिसमें 80 प्रश्न होते हैं । दोनों पेपर दो घंटे का और 200 का होता है । यह केवल Objectiveहोता है ।

मुख्य परीक्षा का आयोजन:- मुख्य परीक्षा में 9 पेपर होता है । इसमें से सात  पेपर का नंबर रैंकिंग के लिए गणना होता है और बाकी दो पेपर केवल पास करने के लिए होता है । यह मुख्य रूप से लिखित परीक्षा होता है । मुख्य परीक्षा 1750 नंबर का है और इंटरव्यू 275 नंबर का है ।

मई में रिजल्ट घोषित होता है ।

साक्षात्कार का आयोजन:-जब अभ्यर्थी मुख्य रूप से दोनों परीक्षाओं को पास कर लेते हैं तो उनको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है । इसमें आपकी व्यक्तित्व परीक्षण जागरूकता, और प्रेजेंट ऑफ माइंड को देखा जाता है । हर चीज के प्रति आपकी पैनी नजर कैसी है । यह इंटरव्यू 45 मिनट का है ।

यहाँ जान ले कीदोनों परीक्षाओं के नंबर को जोड़कर एक मेरिट तैयार होता है  जाता है उसके बाद ही रैंकिंग के हिसाब से पोस्ट मिलता है ।

आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए ?

दोस्तों सबसे पहले आप अपने मन से ये भ्रम हमेशा के लिए निकाल दें की आईएएस बनने के लिए आपको कोई अलग से विषय लेना होता है । आपको  जिस भी सब्जेक्ट में सबसे ज़्यादा रुचि है और उसमें आपकी पकड़ बहुत है तो आप उस विषय को लें ।प्रत्येक विषय से लड़के IAS बनते हैं । जिस विषय को लें खूब मन लगाकर पढ़ें और उस पर अपनी समझ और कॉन्सेप्ट विकसित करें ।

IAS प्रारम्भिक परीक्षा का Syllabus

First paper: – General Studies

  • History of India
  • Current affairs
  • Social and Economic Development
  • Indian National movement
  • Art
  • Climate Change
  • Geography
  • Culture
  • General Knowledge of Science
  • Environment

First paper ka syllabus: -CSAT

  • Decision Making
  • Communication
  • English
  • Data Interpretation
  • Basic math’s

IAS मुख्य परीक्षा का Syllabus

  • Current affairs
  • English
  • Compulsory English Language
  • Essay
  • History
  • Geography
  • Polity
  • Art and culture
  • Governance
  • Social and Economic Development
  • Economy
  • Science and Technology
  • Ethics
  • Optional Paper

प्रश्न:-IAS का Full form क्या है?

उत्तर:-Indian Administrative Service

प्रश्न:-IAS को हिन्दी में क्या कहते हैं?

उत्तर:-भारतीय प्रशासनिक सेवा

प्रश्न:-आईएएस के लिए क्या करना होता है?

उत्तर:- IAS के लिए पहले तो आपको स्नातक पास करना होता है किसी भी श्रेणी में उसके बाद UPSC द्वारा आयोजित सिविल सेवा को पास करना होता जो तीन चरणों में होती है ।

प्रश्न:-आईएएस परीक्षा के लिए कितनी फीस होती है?

उत्तर:-जब Application form भरा जाता है तो उस समय आयोग एक application fees निर्धारित करता है जिसमें श्रेणी के हिसाब से फीस लिया जाता है । सामान्यतः 100/- फीस होता है ।

प्रश्न:- IAS बनने के लिए कितना Marks चाहिए?

उत्तर:- IAS बनने के लिए आपको मुख्य परीक्षा में 900 से ज्यादा मार्क्स लाने पड़ते हैं और साक्षात्कार  में 170 से ज्यादा ।वैसे उस समय बने मेरिट के आधार पर ही यह तय हो पाता है की कितना ज्यादा से ज्यादा मार्क्स चाहिए ।

प्रश्न:-भारत का प्रथम आईएएस कौन था?

उत्तर:-भारत का प्रथम आईएएस सत्येन्द्र नाथ टैगोर थे  ।

प्रश्न:-भारत के सर्वप्रथम महिला आईएएस ऑफिसर कौन थी?

उत्तर:-अन्नारजंम मल्होत्रा थीं । आज हमने इस लेख में आपको बताया की आइएस का फूल फॉर्म क्या है और आइएस कैसे बनें। आशा है की आप लोगों को ये लेख पसंद आया होगा अगर आपको इस विषय में समझ नहीं आया होगा तो आप जरूर कमेन्ट करके पूछें ।

Leave a Comment