बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना 2021-22 ऑनलाइन अप्लाई, लाभ

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना 2021-22| mukhyamantri kanya suraksha yojana online apply | मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना आवेदन पत्र | मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना की स्थिति

Contents hide

दोस्तों आज देश के कई हिस्सों में कन्या भ्रूण हत्या हो रही है। भ्रूण हत्या को रोकने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। जिसमें सरकार द्वारा विभिन्न जागरूकता अभियान चलाए जाते हैं। इसके अलावा, सरकार विभिन्न योजनाओं को भी सम्मलित कर रही है। 

बिहार सरकार द्वारा शुरू की गई ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी भी प्रदान की जा रही है। जिसका नाम है  बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना।  यह योजना बेटी के जन्म पर परिवार को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। 

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना इस लेख के माध्यम सेआप के तहत आवेदन से संबंधित जानकारी के साथ उपलब्ध कराया जाएगा । साथ ही आप इस लेख को पढ़कर बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना से संबंधित अन्य जानकारी जैसे कि इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज आदि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं|

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना 2021-22

वैसे दोस्तों आपको बता दें की यह योजना बिहार सरकार के द्वारा शुरू की गई है। मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना में 2000 की राशि बिहार सरकार द्वारा यूको और आईडीबीआई बैंक में 2021-2022 तक निवेश की जायेगी । कन्या राशि की 18 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद, लड़की को परिपक्वता मूल्य के बराबर राशि का भुगतान किया जाएगा

अगर लड़की की मृत्यु 18 साल पूरे होने से पहले हो जाती है तो इस मामले में यह राशि महिला विकास निगम, बिहार को दी जाती है. इस योजना का उद्देश्य भ्रूण हत्या को रोकना, लिंगानुपात में सुधार और जन्म पंजीकरण को प्रोत्साहित करना है।

बिहार की वह सभी लड़कियां जो 22 नवंबर, 2007 को या उसके बाद पैदा हुई हैं और बीपीएल श्रेणी में आती हैं, उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा। एक परिवार की केवल दो बेटियां ही इस योजना का लाभ लेने की पात्र हैं। यह योजना महिला विकास निगम, बिहार द्वारा लागू की जा रही है। आपको बता दें की बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना से अब तक एक 15 लाख लड़कियों को लाभान्वित किया जा चुका है  ।

इसे भी जरूर पढ़ें:- बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना 2021 

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य भ्रूण हत्या को रोकना है। इस योजना के माध्यम से राज्य में जन्म लेने वाली बेटियों के नाम पर 2000 का निवेश किया जाएगा। 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद, उन्हें परिपक्वता मूल्य के बराबर राशि दी जा रही है। यह योजना राज्य की बेटियों के जीवन स्तर में सुधार लाने में भी कारगर होगी। 

इसके साथ ही बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना से राज्य के लिंगानुपात में भी सुधार होगा। आपको बता दें की इस योजना का लाभ तभी मिलेगा जब बालिका का जन्म पंजीकरण हो गया हो।

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना 2021-22 की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामबिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना
किसने शुरू कियाबिहार की सरकार
लाभार्थीबिहार के नागरिक
लक्ष्यभ्रूण हत्या की रोकथाम और लिंगानुपात में सुधार।
आधिकारिक वेबसाइटhttps://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx
साल2021-2022
साम्राज्यबिहार
निवेदन पत्र के प्रकारऑनलाइन ऑफ़लाइन
निवेश राशि2000

मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के लाभ

  • बिहार सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना शुरू की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से बिहार सरकार द्वारा यूको और आईडीबीआई बैंक में 2000 की राशि का निवेश किया जाएगा।
  • बालिका की 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर बालिका को परिपक्वता मूल्य के बराबर राशि का भुगतान किया जाएगा  ।
  • यदि लड़की की मृत्यु 18 वर्ष की आयु से पहले हो जाती है, तो राशि का भुगतान महिला विकास निगम, बिहार को किया जाएगा।
  • यह योजना भ्रूण हत्या को रोकने, लिंगानुपात में सुधार और जन्म पंजीकरण को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से शुरू की गई है।
  • 22 नवंबर, 2007 को या उसके बाद पैदा हुई और बीपीएल श्रेणी से आने वाली सभी लड़कियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • एक परिवार की केवल दो बेटियां ही इस योजना का लाभ लेने की पात्र हैं।
  • यह योजना महिला विकास निगम बिहार द्वारा लागू की जाएगी।
  • अब तक 15 लाख लड़कियों को योजना का लाभ मिल चुका है।

इसे भी जरूर पढ़ें:- मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021

शिकायतों को दर्ज करने की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना की https://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  1. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  2. होम पेज पर आपको शिकायत  विकल्प पर क्लिक करना होगा  ।
  3. फिर आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  4. आपको इस पृष्ठ पर निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • नाम
  • लिंग
  • माता पिता का नाम
  • राज्य
  • ज़िप कोड
  • संपर्क संख्या
  • ईमेल आईडी
  • पता
  • संदेश
  • कैप्चा कोड
  • इसके बाद आपको सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  1. इस तरह आप शिकायत दर्ज करने में सक्षम होंगे।

शिकायत की स्थिति की जाँच की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षायोजना की https://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  1. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  2. इसके बाद आपको शिकायत के विकल्प पर क्लिक करना होगा  
  3. अब आपको शिकायत स्थिति विकल्प पर क्लिक करना होगा  ।
  4. फिर आपको अपनी शिकायत आईडी दर्ज करनी होगी और मोबाइल नंबर रजिस्टर करना होगा।
  5. अब आपको शो ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  6. इस तरह आप शिकायत की स्थिति की जांच करने में सक्षम होंगे।

इसे भी जरूर पढ़ें:- बिहार अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना 2021

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना पात्रता

  • आवेदक बिहार का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • बालिका का जन्म 22 नवंबर, 2007 को या उसके बाद होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए जन्म का पंजीकरण अनिवार्य है।
  • केवल बीपीएल श्रेणी की लड़कियों को ही योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आवास प्रामाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • उम्र का सबूत
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • राशन पत्रिका
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

इसे भी जरूर पढ़ें:- बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021

ई-डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना की https://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  3. फिर आपको ई-डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा  
  4. अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  5. इस पेज पर आपको यूजर नेम पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  6. अब आपको लॉगिन विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  7. संबंधित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना की https://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx आधिकारिक वेबसाइट  पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  3. होम पेज पर आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना के लिए आवेदन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  4. अब आपके सामने आवेदन फॉर्म आ जाएगा।
  5. आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  6. अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
  7. इसके बाद आपको सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

इसे भी जरूर पढ़ें:- [पंजीकरण] मुख्यमंत्री हरित कृषि संयन्त्र योजना 2022 बिहार

इस प्रकार, आप बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं |

पोर्टल में लॉग इन करने की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना की https://wdc.bih.nic.in/MKSYDetails.aspx आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  3. इसके बाद आपको लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  4. अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना यूजर नेम पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  5. अब आपको लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  6. इस तरह आप लॉग इन कर पाएंगे।

महिलाओं के कल्याण के लिए बिहार सरकार द्वारा किए गए कुछ प्रयास

मुख्यमंत्री नारी शक्ति योजना-

यह योजना बिहार सरकार द्वारा 2021-2022 में राज्य की महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक क्षेत्रों में महिलाओं का समग्र सशक्तिकरण किया जाता है। 

इससे महिलाओं की सामाजिक और आर्थिक स्थिति में सुधार होता है। यह योजना क्षमता निर्माण और माइक्रोफाइनेंस इनपुट के माध्यम से स्थायी स्व-स्वामित्व वाली और महिला-आधारित संस्थानों का प्रबंधन करेगी। इसके अलावा, यह योजना आवश्यकता-आधारित आजीविका प्रयासों को भी सुगम बनाएगी।

पूर्ण शक्ति केंद्र

राज्यों में महिला सशक्तिकरण के राष्ट्रीय मिशन को लागू करने के उद्देश्य से पूर्ण शक्ति केंद्र मॉडल शुरू किया गया है। इस मॉडल के माध्यम से सरकार द्वारा जमीनी स्तर पर प्रदान की जाने वाली सेवाओं का लाभ महिलाओं तक पहुंचाया जाएगा। 

साथ ही महिलाओं को अपनी समस्याओं के समाधान के लिए एक मंच भी प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को भी उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जाएगा।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना शुरू की गई है, जिसका उद्देश्य बेटियों को उनके जन्म के बाद सुरक्षा और शिक्षा प्रदान करना है। यह योजना स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सहयोग से लागू किया गया है। 

महिला विकास निगम, बिहार को योजना के कार्यान्वयन के लिए नोडल एजेंसी के रूप में नामित किया गया है। यह योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई है। यह योजना भ्रूण हत्या को रोकने और बेटी को सुरक्षा और शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई है।

आर्थिक सशक्तिकरण-

आर्थिक सशक्तिकरण को बढ़ावा देने और बिहार में महिलाओं के लिए उद्यमिता प्रोत्साहन के माध्यम से रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के लिए आर्थिक सशक्तिकरण किया जाता है। जिसके माध्यम से महिलाओं के समग्र सशक्तिकरण, गरीबी में कमी, स्वास्थ्य, शिक्षा और कल्याण जैसे व्यापक विकास के प्रतीक हैं। महिलाओं का सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक सशक्तिकरण भी आर्थिक सशक्तिकरण के माध्यम से होता है।

वन स्टॉप सेंटर-

हिंसा से प्रभावित महिलाओं को एक ही छत के नीचे विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से वन स्टॉप सेंटर की स्थापना की गई है। इन सेवाओं में चिकित्सा सहायता, परिवहन, पुलिस, कानूनी सहायता आदि शामिल हैं। यह केंद्र सरकार द्वारा चलाया जाता है।

महिला हेल्पलाइन

महिला हेल्पलाइन की स्थापना हिंसा से प्रभावित महिलाओं की सहायता करने और महिलाओं के लिए चलाई जाने वाली विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से की गई थी। यह 24×7 संचालित एक आपातकालीन सेवा है। इस सुविधा का लाभ महिलाएं 181 हेल्पलाइन पर संपर्क करके प्राप्त कर सकती हैं। इस हेल्पलाइन के माध्यम से दहेज प्रताड़ना के मामले, दहेज हत्या के मामले, घरेलू हिंसा, मानव तस्करी आदि की शिकायतें मिलती हैं।

Leave a Comment