मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: दोस्तों मुख्यमंत्री स्वयं भत्ता योजना बिहार राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली एक योजना है। और आपको बता दें की इस योजन को मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 के नाम से भी जाना जाता है। यह बिहार राज्य सरकार द्वारा की गई एक बहुत अच्छी योजना है।

यह बेरोजगार युवाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी ताकि बेरोजगार युवाओं को नौकरी मिल सके। यह योजना वास्तव में बिहार सरकार द्वारा उठाया गया एक बड़ा कदम है क्योंकि अक्सर यही देखा जाता है कि बेरोजगार युवाओं को उनके बेरोजगारी के मुद्दों के कारण अच्छे साधनों से हटा दिया जाता है।

मुख्यमंत्री स्वयं भत्ता योजना के तहत दो योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। उनके नाम नीचे दिए गए हैं।

  1. छात्र क्रेडिट कार्ड योजना
  2. कौशल विकास योजना

दोनों योजनाएं वर्तमान में बिहार राज्य में लागू की जा रही हैं।

योजना का नामस्वयं सहायता भत्ता योजना
द्वारा लॉन्च किया गयासीएम नीतीश कुमार
लॉन्चिंग तिथि (पायलट चरण)सितम्बर 2016
लॉन्चिंग तिथि (आधिकारिक)2 अक्टूबर 
लाभार्थियों12वीं  पास बेरोजगार युवा
लाभार्थियों का आयु समूह20-25
मासिक वेतनरु. 1, 000

इसे भी जरूर पढ़ें:- बिहार अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना 2021

मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 के लिए पात्रता मानदंड 

  • इस योजना के लिए केवल शिक्षित युवा ही पात्र होंगे। इस प्रकार, सबसे पहले एक व्यक्ति को राज्य द्वारा बोर्ड परीछा से 12वी  पास होना जरुरी है
  • छात्र नौकरी की तलाश में होना चाहिए। यदि कोई व्यक्ति अपनी उच्च शिक्षा के लिए इच्छुक है तो वह मुख्यमंत्री स्वयंयं भत्ता योजना की सुविधाओं के लिए पात्र नहीं होगा।
  • मुख्यमंत्री स्वयंयं सहायता भत्ता योजना के लिए भी एक आयु सीमा है। इस योजना के लिए पात्र होने के लिए एक व्यक्ति की आयु 20-25 वर्ष होनी चाहिए।
  • व्यक्ति को उस जिले का स्थायी निवासी होना चाहिए जहां से वे मुख्यमंत्री स्वयंयं भत्ता योजना के लिए आवेदन कर रहे हैं।
  • पात्रता के लिए सबसे महत्वपूर्ण मानदंड यह है कि एक आवेदक को बिहार राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए गए पहले के भत्तों, छात्रवृत्ति या किसी भी छात्र योजना से लाभान्वित नहीं होना चाहिए।
  • यदि कोई आवेदक शिक्षा ऋण या छात्र क्रेडिट कार्ड योजना से लाभान्वित हो रहा है, तो वह इस योजना के लिए पात्र नहीं होगा।
  • यदि कोई आवेदक स्वयं-नियोजित है तो वह मुख्यमंत्री स्वयंयं-भत्ते योजना के लिए पात्र नहीं होगा।
  • मुख्यमंत्री स्वयं भत्ता योजना की सुविधाओं के लिए पात्र होने के लिए एक आवेदक को कौशल युवा योजना के तहत एक प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी। यह प्रमाण पत्र केवल उन्हीं आवेदकों को प्रदान किया जाएगा जिनके पास कंप्यूटर का बुनियादी ज्ञान है

मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें 

बिहार राज्य सरकार एक ऑनलाइन पोर्टल बनाएगी ताकि आवेदक मुख्यमंत्री स्वयं भत्ता योजना के लिए आवेदन कर सकें। आवेदक पोर्टल पर जाकर योजना के लिए आवेदन कर सकेंगे। मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना के लिए सभी आवेदन ऑनलाइन से आमंत्रित किए जाएंगे।

इसे भी जरूर पढ़ें:- बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021

बिहार में बेरोजगारी भत्ता ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया इस प्रकार है –

  • आवेदन करने के लिए बिहार की इस वेबसाइट MNSSBY पर जाएँ।
  • फिर नई एप्लिकेंट रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करके पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू करे।
  • SSC के अनुसार आवेदक का नाम आखीर नाम पिता का नाम माता का नाम डालें।
  • आवेदक का ईमेल एड्रेस डालें।
  • आधार नंबर और मोबाइल नंबर लिखकर वेरीफाई करें।
  • बेरोजगारी भत्ता रजिस्ट्रेशन वसुधा केंद्र में हो तो वह ऑप्शन चुन ले।
  • ईमेल और मोबाइल पर मिले ओटीपी को पूछे गये स्थान पर डालें|
  • फिर बेरजोगारी भत्ता ऑनलाइन फॉर्म को सबमिट कर दे।

मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 का आवेदन पत्र

एक आवेदक मुख्यमंत्री स्वयं भत्ता योजना के आवेदन पत्र का प्रारूप डाउनलोड करने के लिए इंटरनेट का उपयोग कर सकेगा। एक आवेदक को अपने आवेदन पत्र के साथ कुछ अनिवार्य दस्तावेज भी जोड़ने होंगे । 

मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 का उद्देश्य 

दोस्तों सरकार के इस योजना का उद्देश्य बिहार राज्य के बेरोजगार युवाओं की आर्थिक सहायता करना है। बिहार की राज्य सरकार 1000 रुपये की राशि प्रदान करेगी। नौकरी की तलाश के दौरान बिहार के बेरोजगार युवाओं को 1000 प्रति माह दिए जायेंगे। लेकिन मासिक वजीफा केवल बिहार राज्य के 12वी पास युवाओं को ही दिया जाएगा । यह वित्तीय सहायता किसी व्यक्ति को अधिकतम दो वर्ष की अवधि के लिए प्रदान की जाएगी।

इसे भी जरूर पढ़ें:- [पंजीकरण] मुख्यमंत्री हरित कृषि संयन्त्र योजना 2022 बिहार

यह योजना नौकरी चाहने वालों की समस्याओं का काफी हद तक समाधान करेगी क्योंकि यह उनके लिए बहुत जरूरी है। नौकरी की तलाश करते समय परिवहन और अन्य आवश्यक खर्चों को योजना द्वारा प्रदान की जाने वाली मासिक राशि से कवर किया जा सकता है इसलिए सरकार ने इस योजना की सुरुआत की है।

दस्तावेजों की सूची नीचे दी गयी है

  1. 12वी या स्नातक का शिक्षा प्रमाण पत्र
  2. आवेदक का 10वां पास प्रमाण पत्र जहां आवेदक की जन्म तिथि का उल्लेख किया गया है।
  3. आवेदक का आवासीय प्रमाण पत्र।
  4. आवेदक के बचत बैंक खाते का विवरण। (आईएफएस कोड, बैंक और शाखा का नाम, आवेदक का पता और खाता संख्या सहित)।
  5. आवेदक का आधार कार्ड की फोटो कॉपी।

बेरोजगारी भत्ता भुगतान अप्रूवल कैसे किया जाता है

  • डॉक्यूमेंट सत्यापन के बाद बेरोजगारी भत्ता आवेदन पत्र असिस्टेंट मैनेजर के पास भेजा जाता है।
  • वहां पर बेरोजगारी भत्ता रजिस्ट्रेशन फॉर्म का रिव्यु किया जाता है।
  • वहां से वेरिफिकेशन के बाद आवेदन पत्र डिस्ट्रिक्ट प्लानिंग अफसर के पास भेज दिया जाता है।
  • डिस्ट्रिक्ट प्लानिंग अफसर वेरीफाई करके पंजीकरण फॉर्म PMU और बैंक के पास भेजा जाता है।
  • महीने के अंत में DPO द्वारा बेरोजगारी भत्ता भुगतान कर दिया जाता है।
  • बेरोजगारी भत्ता लाभार्थी को भुगतान उसके बैंक अकाउंट में प्राप्त हो जाता है।

इसे भी जरूर पढ़ें:- Bihar Free Laptop Yojana 2021

बिहार स्वयं सहायता बेरोजगारी भत्ता स्थिति कैसे चेक करें

  • बिहार में प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता स्थिति की जांच के लिए MNSSBY के वेबसाइट पर जाएँ।
  • वहां बिहार बेरोजगारी भत्ता स्टेटस के पेज पर जाएँ।
  • आवेदन की स्थिति के लिंक पर क्लिक करें।
  • वहां बिहार बेरोजगारी भत्ता रजिस्ट्रेशन नंबर और आधार कार्ड नंबर से स्टेटस देख सकते हैं।
  • ऑप्शन चुनकर अपना नंबर डालें।
  • अपनी जन्मतिथि चुने।
  • वेरिफिकेशन कोड डालकर सबमिट बटन पर क्लिक करें
  • उसके बाद आप बेरोजगारी भत्ता स्टेटस देख पाएंगे।

2 thoughts on “मुख्यमंत्री बिहार स्वयं सहायता भत्ता योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन”

Leave a Comment