MP Bhulekh 2021- एमपी भूलेख खसरा खतौनी नकल, भू नक्सा ऑनलाइन कैसे चेक करें

MP Bhulekh 2021- एमपी भूलेख खसरा खतौनी, भू नक्सा ऑनलाइन कैसे चेक करें, संक्षिप्त जानकारी: मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सांसद भूलेख, सांसद खसरा खतौनी ऑनलाइन सत्यापन, ऑनलाइन वेब पोर्टल शुरू किया गया है ताकि राज्य के नागरिकों को भूलेख से संबंधित सभी विवरण प्राप्त हो सकें। इस पोर्टल की सहायता से आप घर बैठे सभी प्रकार के भू-अभिलेखों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एमपी भूलेख पोर्टल में नागरिकों की जमीन का सारा ब्योरा ऑनलाइन फॉर्म में कम्प्यूटरीकृत कर दिया गया है। मप्र सरकार द्वारा राजस्व विभाग से संबंधित सेवाओं को डिजिटाइज़ करने का यह एक सफल प्रयास है।

सांसद भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन सत्यापन के लाभ

सांसद भूलेख के माध्यम से अब नागरिकों को घर बैठे पारदर्शी रूप में भूमि संबंधी जानकारी प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।

नागरिक पोर्टल की सहायता से कहीं से भी अपनी भूमि के विवरण की जानकारी देख या प्राप्त कर सकते हैं।

भूमि से संबंधित जानकारी जैसे भूमि मानचित्र, खतौनी, खसरा संख्या आदि प्राप्त की जा सकती है।

अब एमपी भूलेख पोर्टल की मदद से नागरिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।

सांसद खसरा खतौनी की मदद से नागरिकों को पारदर्शी रूप में सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

इससे राजस्व विभाग की सेवाओं को और आसानी से सरल बनाया जा सकेगा।

लोगों के साथ हो रहे जमीन संबंधी मामले फर्जीवाड़े की गतिविधियों पर रोक लगाएंगे।

MP Bhulekh पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें?

Mpbhulekh पोर्टल खोलने के लिए आधिकारिक वेबसाइट खोलें।

  • इसके बाद होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • उसके बाद, login फॉर्म खुल जाएगा।
  • सबसे पहले, login फॉर्म में अपने विभाग का चयन करें।
  • लॉग इन करने के लिए, आपको अपना उपयोगकर्ता नाम, पासवर्ड और कैप्चा कोड जैसे विवरण भरने होंगे।
  • इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • आप लॉग इन हो जाएंगे।

एमपी खसरा खतौनी ऑनलाइन कैसे चेक करें

अभ्यर्थी ध्यान दें, यहां हम आपको मध्यप्रदेश में भूमि अभिलेख खसरा या खतौनी देखने की प्रक्रिया बताएंगे; आप नीचे दिए गए चरणों का पालन करके एमपी खसरा खतौनी को ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।

  • सबसे पहले नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें (एमपी खसरा खतौनी चेक)
  • फिर भूमि स्वामी, खसरा संख्या, खाता संख्या में से किसी एक विकल्प को चुनकर संख्या दर्ज करें
  • फिर आपको खसरा विवरण दर्ज करना होगा, फॉर्म में दिए गए सभी विकल्पों को सही ढंग से चुनें जैसे- जिला, तहसील और गांव, आदि।
  • फिर सभी आवश्यक विवरण भरने के बाद, दिए गए कैप्चा कोड को दर्ज करें और विवरण देखें पर क्लिक करें।
  • अब आपकी खसरा खतौनी की जानकारी आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी
  • ऐसे में सांसद खसरा खतौनी को घर बैठे देखने का सिलसिला देखा जा सकता है.

मध्य प्रदेश भु-नक्शा ऑनलाइन कैसे जांचें?

  1. सबसे पहले नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें (Madhya Pradesh Bhu-Naksha Check)
  2. इसके बाद मेन्यू में सर्च बटन पर क्लिक करें। इसे आप नीचे दी गई तस्वीर में देख सकते हैं।
  3. फिर फॉर्म खुलेगा जिसमें आपको अपने जिले, तहसील और गांव का चयन करना होगा।
  4. फिर सबसे नीचे बाईं ओर (खसरा विवरण) पर क्लिक करके खसरा नंबर दर्ज करें, फिर सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  5. उसके बाद आपके सामने आपकी जमीन की डिटेल आ जाएगी और आपके जमीन के नक्शे को हाईलाइट कर देगा।
  6. इस तरह आप मध्य प्रदेश के भूमि मानचित्र को ऑनलाइन चेक कर सकते हैं

एमपी भूलेख पोर्टल पर पंजीकरण कैसे करें?

अगर आप किसी सर्विस का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। पंजीकरण प्रक्रिया नीचे दी गई है। कृपया एक नज़र डालें।

1- सबसे पहले एमपी भुलेख की आधिकारिक वेबसाइट खोलें । आपको होमपेज के दाईं तरफ एक login पेज दिखाई देगा उसमे क्लिक करना है।

2-अब इस लॉग इन फॉर्म के नीचे उपलब्ध रजिस्टर को पब्लिक यूजर बटन के रूप में दबाएं । एक नई विंडो में एक नया पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

3-अब आपको सभी जरूरी जानकारी जैसे loginID, अपना नाम, पिता का नाम, पता, ईमेल ID, मोबाइल नंबर आदि प्रदान करके यह फॉर्म भरना होगा।

4-मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करें और अपना मोबाइल नंबर सत्यापित करने के लिए इस टॉप को दर्ज करें। उसके बाद दिए गए सुरक्षा कोड को भरें और रजिस्टर बटन पर क्लिक करें। आपका पंजीकरण अब पूरा हो गया है।

यह प्रक्रिया करने के बाद आपको आपका पासवर्ड और loginIDआपके मोबाइल नंबर पर भेज दिया जाएगा।

एमपी भूलेख login प्रक्रिया

एक बार जब आप पोर्टल पर सफलतापूर्वक पंजीकृत हो जाते हैं तो आप अपनी loginID और पासवर्ड का उपयोग करके लॉग इन कर सकते हैं। कृपया नीचे दिए गए चरणों की जाँच करें।

1- आधिकारिक पोर्टल खोलें ।

2- दाहिने की तरफlogin फॉर्म में अपनीloginID और पासवर्ड डाल कर loginकरें।

3- विभाग अनुभाग में सार्वजनिक उपयोगकर्ता चुनें और सुरक्षा कोड दर्ज करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।

4- पहली बार लॉग इन करने के बाद एक पासवर्ड चेंज पेज स्क्रीन पर दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

एमपी भूलेख शिकायत या सुझाव दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले उम्मीदवार नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें (एमपी भूलेख शिकायत या अनुरोध)
  • फिर आप अपनी आवश्यकता के अनुसार सार्वजनिक/पंजीकृत उपयोगकर्ताओं में से किसी एक को चुनेंगे
  • फिर आपको शिकायत/सुझाव फॉर्म दिखाई देगा, उसमें पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करें
  • फिर सेंड ओटीपी के आप्शन पर क्लिक करके सबमिट पर क्लिक करें
  • इस तरह आप अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं

सांसद भूलेख, सांसद खसरा खतौनी से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्नएमपी भूलेख पोर्टल क्या है?

उत्तर- यह भूमि से संबंधित वेब पोर्टल है जिसमें नागरिकों की सुविधा के लिए सभी प्रकार की भूमि विवरण की जानकारी उपलब्ध कराई गई है। मध्य प्रदेश राज्य के लोग इस पोर्टल की मदद से अपनी भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

प्रश्नएमपी भूलेख पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

उत्तर- mpbhulekh.gov.in एमपी भुलेख पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट है

प्रश्नएमपी खसरा खतौनी नक्शा क्या है?

उत्तर- एमपी खसरा खतौनी नक्शा एक कानूनी दस्तावेज है जो पूरे गांव का नक्शा प्रदर्शित करता है। तहसीलें मुख्य रूप से इसे जारी करती हैं; खसरा नक्शा भूमि के क्षेत्र, माप, स्वामित्व और अन्य विवरण दिखाता है, प्रत्येक भूमि को एक खसरा संख्या आवंटित की जाती है, जिसके उपयोग से कोई भी खसरा भू-नक्ष पर भूमि का विवरण देख सकता है।

प्रश्न– एमपी पोर्टल के माध्यम से नागरिकों ने राज्य की क्या सुविधाओं का लाभ उठाया है?

उत्तर- एमपी भूलेख पोर्टल की मदद से नागरिक अब घर बैठे अपनी जमीन से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन फॉर्म में प्राप्त कर सकते हैं। इस पोर्टल के प्रयोग से राजस्व विभाग से संबंधित सेवाओं में पारदर्शिता आएगी।

प्रश्नएमपी भूलेख शिकायत या सुझाव कैसे दर्ज करें?

उत्तर- एमपी भूलेख की शिकायत या सुझाव दर्ज करने के लिए आयुक्त भूमि अभिलेख मध्य प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। हमने आपको इस लेख में इस वेबसाइट का लिंक प्रदान किया है। फॉर्म में सभी विवरण भरें, एंटर ओटीपी बटन पर क्लिक करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें। आपकी शिकायत दर्ज की जाएगी।

प्रश्नक्या नामांतरण के लिए कोई शुल्क देना होता है?

उत्तर- नहीं, उत्परिवर्तन के लिए कोई शुल्क नहीं है। यह प्रक्रिया नि:शुल्क प्रदान की जाती है।

प्रश्नम्यूटेशन के लिए कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होती है?

उत्तर- उत्परिवर्तन के लिए आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जैसे – बी -1 की एक प्रति, खसरा की प्रति, डिक्री की प्रति, एक वसीयत की प्रति, बिक्री विलेख, मृत पत्र, दान पत्र, बंधक पत्र, और अन्य, आदि।

Leave a Comment