[रजिस्ट्रेशन] एमपी रोजगार सेतु योजना 2021-22 ऑनलाइन आवेदन

एमपी रोजगार सेतु योजना 2021-22 ऑनलाइन आवेदन: दोस्तों मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कुशल प्रवासी मजदूरों के लिए MP Rojgar Setu Yojana 2021-22 के लिए rojgarsetu.mp.gov.in या sambal.mp.gov.in/RojgarSetu/ पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं सभी लौटने वाले प्रवासी श्रमिक सांसद रोजगार सेतु योजना पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते हैं। 

राज्य सरकार द्वारा  रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए प्रवासियों का कौशल रजिस्टर तैयार किया जाएगा। राज्य सरकार कोरोनावायरस (COVID-19) लॉकडाउन से लगभग 10 से 13 लाख बेरोजगार प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिया जा रहा है, जो कोरोना की वजह से अपनी नौकरी से निकाल दिए गये थे।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को प्रवासियों को फास्ट ट्रैक आधार पर काम उपलब्ध कराने के निर्देश जारी किए हैं। साथ ही कुशल प्रवासी मजदूरों को नौकरी की सुरक्षा प्रदान करने के लिए शॉर्ट टर्म प्लानिंग और लॉन्ग टर्म प्लानिंग भी की जाएगी।

इसे भी जरूर पढ़ें:- एमपी राशन आपके ग्राम योजना 2021-22

यह एमपी रोजगार सेतु योजना के शुभारंभ के द्वारा किया जाएगा। अकुशल श्रमिकों के लिए, सरकार श्रम सिद्धि अभियान योजना पहले ही शुरू कर दिया है। अब सभी कुशल प्रवासी मजदूर http://sambal.mp.gov.in/RojgarSetu/ पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

एमपी रोजगार सेतु योजना पोर्टल पंजीकरण / आवेदन पत्र

मध्य प्रदेश सरकार कुशल प्रवासी श्रमिकों और नियोक्ताओं की जानकारी एक मंच पर प्रदान करने के लिए एमपी रोजगार सेतु योजना 2021-2022 शुरू कर दी गयी है। मध्य प्रदेश राज्य में रोजगार सेतु योजना का महत्वपूर्ण विवरण इस प्रकार है।

नियोक्ता/एमएसएमई/उद्योग/नौकरी प्रदाता ऑनलाइन पंजीकृत करें

यहां नियोक्ताओं, एमएसएमई, उद्योग और अन्य नौकरी प्रदाताओं के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की पूरी प्रक्रिया बताई गयी है

  • सबसे पहले आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा http://sambal.mp.gov.in/RojgarSetu/
  • फिर आपको किसी एक आप्शन पर क्लिक करना होगा जिसमे की आप अच्छे से काम कर सकें और उसके बारे में आपको अच्छी जानकारी हो
  • सुधार / सूक्ष्म, लघु, मध्यम, व्रहद / कारखाना / व्यावसायिक प्रतिष्ठान /संस्था / निर्माण
    / दवा प्रणाली //मौल / मौसम का विवरण ” टैब पर क्लिक करें।
  • आप जब अपना मन पसंद काम select कर लेंगे वैसे ही आपके सामने एक नया पेज खुलेगा
  • अब आपको एमपी रोजगार सेतु नियोक्ता ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा आपको उसमे क्लिक करना है
  • अब आपको उस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी सही सही भरनी होगी
  • जैसे आपका नाम आपके पिता का नाम आपके माता का नाम आप कौन सा काम करते थे आपको कितने साल का अनुभव है
  • इसके साथ ही आपको अपना मोबाइल नम्बर और अपना आधार नम्बर डाल कर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा

इसे भी जरूर पढ़ें:- एमपी बिजली बिल माफी योजना 2021

MP Rojgar Setu Yojana 2021-22

अन्य राज्यों में काम कर रहे श्रमिक COVID-19 महामारी के कारण अपने घर राज्य मध्य प्रदेश लौट गए थे। जिससे स्थानीय प्रवासी श्रमिक अपनी क्षमता के अनुसार संस्थान में रोजगार देकर उन्हें आत्मनिर्भर एवं सशक्त मध्यप्रदेश बनाने में अपना योगदान देना है। इन निर्माण श्रमिकों के 43, असंगठित श्रमिकों के 40 और कारखानों में काम कर रहे9 श्रमिकों के कौशल और कौशल के अनुसार, रोजगार सेतु पोर्टल पर प्रवासी श्रमिकों की जानकारी दर्ज की गई है। 

रोजगार सेतु योजना पोर्टल के माध्यम से कुशल श्रमिकों को उनके कौशल के अनुसार उनके अपने गांव/शहर में उचित रोजगार मिलेगा। रोजगार सेतु योजना पोर्टल के माध्यम से नियोक्ता अपने संस्थान में उपलब्ध मानव संसाधन रिक्तियों की सूचना पोर्टल पर प्रकाशित किया जाएगा

नियोक्ताओं , सूक्ष्म, लघु, मध्यम, बड़े उद्योगों,कारखानों,व्यावसायिक प्रतिष्ठानों, संस्थाओं, ठेकेदारों, बिल्डरों, दुकानों, मॉल, प्लेसमेंट एजेंसी के लिए रोजगार ब्रिज पोर्टल पर पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं अनुभव,कौशल एवं जिले के आधार पर स्थानीय श्रमिकों की सूची पोर्टल पर प्राप्त करने एवं उपयुक्त पाये जाने पर मोबाइल नम्बर पर सम्पर्क कर रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा

इसे भी जरूर पढ़ें:- एमपी मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना 2022 

कुशल प्रवासी मजदूर योजना के बारे में जरूरी जानकारी

लौटने वाले प्रवासियों को रोजगार प्रदान करने की दीर्घकालिक योजना के एक भाग के रूप में, मध्य प्रदेश सरकार। एमपी रोजगार सेतु योजना पोर्टल शुरू किया गया है। सभी कुशल प्रवासी मजदूरों को अपना नामांकन कराने के लिए एमपी रोजगार सेतु योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरना होगा।    

  • कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लॉक डाउन की स्थिति में अन्य राज्यों के प्रवासी श्रमिक पोर्टल पर अपने ग्राम पंचायत/वार्ड कार्यालय के माध्यम से अपने निवास स्थान पर आते हैं तो उन्हें यही पर नौकरी देने के लिए यह योजना सुरु की गयी है ।
  • पंजीकरण में, श्रमिकों को पोर्टल पर अपने रोजगार, कौशल और कौशल के बारे में आवश्यक जानकारी देनी होगी जिससे उन्हें उन्ही के अनुभव के अधर पर नौकरी दी जा सके।
  • पंजीकरण के बाद, रोजगार सेतु पोर्टल पर सभी नियोक्ताओं को रोजगार डेटा प्रदर्शित किया जाएगा जिससे वो अपना चयन देख सकते हैं की हमे किस छेत्र में नौकरी मिली है।
  • स्थानीय श्रमिकों को उनके संस्थानों में आवश्यकता के अनुसार और उनके कौशल के अनुसार रोजगार प्रदान किया जाएगा।
  • पंजीकृत प्रवासी के लिए सरकार पूरी तरह से यह प्रयास करेगी की उन्हें जल्दी और अच्छा काम मिल सके ताकि उनके घरो में किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो

जो प्रवासी श्रमिक मध्य प्रदेश के मूल निवासी हैं, जिनके पास अगर कोई आईडी नहीं है तो उन्हें प्रक्रिया के अनुसार उनकी आईडीबनाई जायेगी इसके बाद ऑनलाइन पोर्टल पर आईडी का उल्लेख कर इन श्रमिकों का सर्वेक्षण, सत्यापन और पंजीकरण सुनिश्चित किया जाएगा। 

जारी निर्देशों के अनुसार पोर्टल पर आईडी और आधार कार्ड नंबर अंकित करना अनिवार्य होगा। सर्वेक्षण, सत्यापन एवं पंजीकरण केवल उन्हीं श्रमिकों का किया जाएगा जो ‘मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना’ अथवा ‘भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड’ में पंजीकरण हेतु पात्र थे।

इसे भी जरूर पढ़ें:- मध्य प्रदेश हमारा घर हमारा विद्यालय योजना 2021

पात्र प्रवासी श्रमिकों से निर्धारित सर्वेक्षण पत्र की जानकारी 3 जून 2021 से पहले पोर्टल पर अपलोड करने तथा सर्वेक्षण पत्र को सुरक्षित रखने के निर्देश दिये गये हैं. ग्राम पंचायत सचिव एवं नगरीय क्षेत्र के वार्ड प्रभारी सर्वेक्षण फार्म भरने में आवेदक की सहायता करेंगे। 

ये सभी कार्रवाई जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन के अंतर्गत की जाएगी। ग्रामीण क्षेत्र के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी, शहरी क्षेत्र के लिए मुख्य नगर पालिका अधिकारी और नगर निगमों में निगम आयुक्त अधिकृत इसके अधिकारी होंगे और उन्ही के देख रेख में सारे काम किये जायेगे।

एमपी रोजगार सेतु योजना 2021-22 में लगने वाले जरूरी दस्तावेज

  • श्रमिक कार्ड
  • पहचान पत्र या वोटर कार्ड
  • मोबाइल नम्बर
  • आधार नम्बर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

रोजगार सेतु योजना पोर्टल पर प्रवासी श्रमिक कौशल रजिस्टर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पंचायत को एमपी प्रवासी मजदूर कौशल रजिस्टर तैयार करने के निर्देश जारी कर दिया हैं. इस प्रवासी श्रमिक कौशल रजिस्टर में कौशल के साथ-साथ अन्य जानकारी का विवरण होगा। रोजगार सेतु पोर्टल पर मौजूद जानकारी में व्यक्तिगत विवरण, शैक्षिक योग्यता, कौशल, पहले की नौकरी, पिछला वेतन, पिछले नियोक्ता, अपेक्षित मासिक वेतन और प्रवासियों के काम करने का इच्छुक क्षेत्र शामिल होगा।

इसे भी जरूर पढ़ें:- मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन योजना 2021

इसके साथ ही काम करने वाले कर्मियों को खोजने वाले नियोक्ताओं की आसानी के लिए एमपी सरकार रोजगार सेतु योजना पोर्टल पर सभी विवरण अपलोड करेगी। इस पोर्टल पर नियोक्ता पंजीकृत प्रवासी मजदूरों की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, जो उन्हें उपलब्ध कराई जाएगी। साथ हीसूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई क्षेत्र) रोजगार उपलब्ध कराने में अहम भूमिका निभाएंगे।

उन क्षेत्रों की सूची जिनमें प्रवासियों को रोजगार मिलेगा

  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक
  • ईंट भट्ठा खनन
  • कपड़ा
  • कारखाना
  • कृषि और संबद्ध गतिविधियां
  • अन्य सरकारी सेक्टर्स

लौटने वाले प्रवासी श्रमिक मुख्य रूप से महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, तमिलनाडु, हरियाणा, कर्नाटक और राजस्थान राज्यों से आ रहे हैं।