[RJSSY] राजस्थान जननी शिशु सुरक्षा योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

राजस्थान जननी शिशु सुरक्षा योजना 2022 ( RJSSY 2022) ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: जननी शिशु सुरक्षा योजना एक प्रमुख योजना है जिसे एनआरएचएम राजस्थान द्वारा प्रशासित किया जाता है और यह योजना राजस्थान के चिकित्सा स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा कार्यान्वित की जाती है। संबंधित जिले के सीएमओ इस योजना के प्रबंधन के प्रमुख होते हैं। 

जननी शिशु सुरक्षा योजना के तहत राज्य सरकार/केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में 1400 रुपये और शहरी क्षेत्र में 1000 रुपये सरकारी अस्पताल/सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र पीएचसी/सीएचसी आदि में बच्चे की डिलीवरी के बाद प्रदान किये जाते है। और आपको बता दें की  यह राशि चेक के रूप में दी जाती है। 

डिस्चार्ज के समय संबंधित अस्पताल के प्रमुख द्वारा सीधे चेक दिया जाता है। सरकारी अस्पताल में प्रसव प्रक्रिया के लिए सरकार सभी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध कराती है। 

राजस्थान जननी सुरक्षा योजना का उद्देश्य

राजस्थान जननी सुरक्षा योजना के तहत, बच्चे के जन्म के बाद सरकार को बच्चे और मां की देखभाल के उद्देश्य से ग्रामीण इलाकों में 1400 रुपये और शहरी क्षेत्र में 1000 रुपये प्रदान किए जाएंगे। सभी वितरण शुल्क, दवा और अन्य सुविधा सरकार द्वारा मुफ्त प्रदान की जाएगी।

राजस्थान जननी शिशु सुरक्षा योजना 2022 के तहत पांच सुविधाएं प्रदान की जाएंगी

  1. मुफ्त एम्बुलेंस सेवा गर्भवती महिलाओं को घर से उठाएगी और यह रोगी के घर पर भी मुफ्त में आएगी। आप भी इस योजना के तहत 108 मुफ्त एम्बुलेंस सेवा का उपयोग कर सकते हैं।
  2. गर्भवती महिलाओं के भोजन के लिए सरकार द्वारा 100 रुपये प्रदान किए जाएंगे। भोजन योजना के तहत अस्पताल सुबह का नाश्ता (रोटी, मक्खन, फल, अंडा, दूध), दो समय का भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। नॉर्मल डिलीवरी के लिए लगभग 3 दिन और सिजेरियन डिलीवरी के लिए 7 दिन अस्पताल यह सुविधा प्रदान करेगी अगर डॉक्टर ज्यादा दिन रुकने की सलाह देंगे तो अस्पताल अतिरिक्त दिनों में भी मुफ्त भोजन देगा।

इसे भी जरूर पढ़ें:- राजस्थान शुभ शक्ति योजना 2021-22

  • अस्पताल द्वारा सभी दवा और उपभोज्य नि:शुल्क उपलब्ध कराई जाएगी।
  • अस्पताल द्वारा अधिकतम सभी आवश्यक परीक्षण जैसे अल्ट्रासाउंड, सोनोग्राफी आदि निःशुल्क किए जाएंगे। 
  • आरएच / एबीओ परीक्षण
  • डीआर / वीडीआरएल परीक्षण
  • हेपेटाइटिस बी टेस्ट
  • एचआईवी रैपिड डायग्नोसिस टेस्ट आदि
  • रक्त, शर्करा, मूत्र आदि
  • रक्त नि:शुल्क होगा। इस अस्पताल में रक्त उपलब्ध नहीं होने पर परिवार का या सदस्य का कोई व्यक्ति रक्तदान करेगा। 

राजस्थान जननी सुरक्षा योजना पात्रता मानदंड

  • बच्चे की डिलीवरी सरकारी अस्पताल में होनी चाहिए।
  • सभी श्रेणी के आवेदक इस योजना के लिए पात्र हैं। 
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आय की कोई सीमा नहीं है। 
  • अगर आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आप राजस्थान के स्थाई निवासी होने चाहिए
  • इस योजना का पूरा लाभ सिर्फ गर्भवती महिला को ही दिया जाएगा
  • इसके साथ ही इस योजना का अगर आप लाभ लेना चाहते हैं तो आपको प्रसव सरकारी अस्पताल में ही करना होगा

राजस्थान जननी सुरक्षा योजना के लिए आवेदन कैसे करें 

  • जननी शिशु सुरक्षा पर आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक है:-https://nhm.gov.in/
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको उस वेबसाइट का होम पेज दिखाई देगा
  • होम पेज पर आने के बाद आपको उपर की तरफ जननी सुरक्षा योजना का आप्शन दिखाई देगा आपको उसमे क्लिक करना है
  • अब आपको एक नये पेज में भेज दिया जाएगा
  • जहा पर आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा
  • आपको उस फॉर्म में पूछी गयी साडी जानकारी सही सही भरनी है
  • इसके साथ ही आपको उसमे मांगे गये सभी दस्तावेज भी ऑनलाइन अपलोड करने होंगे
  • उसके बाद आप फॉर्म को एक बार अच्छी तरह से चेक कर लें की अपने फॉर्म भरते समय कोई गलती तो नहीं की है
  • फिर आप सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें
  • आपका आवेदन सफलतापूर्वक भर जाएगा 

इसे भी जरूर पढ़ें:- कालीबाई भील स्कूटी योजना 2021-22

जननी सुरक्षा योजना 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज

जननी शिशु सुरक्षा के लिए आवेदक को आवेदन पत्र के साथ निम्नलिखित दस्तावेज संलग्न करना आवश्यक है:

  • आवेदन का आईडी प्रमाण पत्र
  • दो फोटो
  • बैंक का पास बुक 
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • मोबाइल नम्बर

जननी सुरक्षा योजना 2022 कापृष्ठभूमि

राजस्थान सरकार ने 1 जून 2021को जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम (JSSK) का शुभारंभ किया है यह योजनाएक नए राष्ट्रीय पहल महिलाओं और बच्चो के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं बनाने के लिए अनोखा कदम है। इस योजना से 12 लाख से अधिक गर्भवती महिलाओं को लाभ मिलेगा क्युकी यह महिलायें इस योजना की मदद से सरकार तक पहुँचती हैं। इसके साथ ही उनकी डिलीवरी के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं भी कराइ जाती है  इसका उद्देश्य ग्रामीण में स्वास्थ्य कर्मियों के बीच जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम (जेएसएसके) के ज्ञान को प्रभावित करने वाले कारकों का अध्ययन करना और बढावा देना था।

इसे भी जरूर पढ़ें:- प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 2021 पंजीकरण

जननी सुरक्षा योजना 2022 के काम करने के तरीके 

ग्रामीण ब्लॉक के क्षेत्र अभ्यास में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के बीच एक क्रॉस-सेक्शनल अध्ययन किया गया था जो कि गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पुणे का ग्रामीण क्षेत्र अभ्यास क्षेत्र है। इसमें 9 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और कुल 43 उपकेंद्र शामिल हैं। अध्ययन शुरू करने से पहले एक पायलट अध्ययन किया गया था और प्रोफार्मा का परीक्षण किया गया था। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में साप्ताहिक बैठक के दौरान आंकड़े जुटाए गए। और साक्षात्कार तरीके से सभी स्वास्थ्य कर्मियों को JSKK के ज्ञान के बारे में जानकारी सूचना दी गई। फिर जा कर इस योजना का गठन हुआ और इसकी सुरुआत की गयी  

इसे भी जरूर पढ़ें:- Rajasthan Patta Registration 2021

जननी सुरक्षा योजना 2022 का परिणाम

दोस्तों आपको बता दें की जननी शिशु सुरक्षा योजना का लाभ अभी तक राजस्थान की लगभग 34 प्रतिशत महिलाओं को मिल चूका है और इसके बाद भी अभी इस योजना को बंद करने का कोई निर्णय नहीं लिया गया है इसका सीधा सा मतलब यह है की सरकार ऐसे ही उन गरीब परिवार की महिलाओं की मदद करते रहना चाहती है

जहा 34 प्रतिशत महिलाओं को इस योजना का लाभ मिला है वहीँ राजस्थान में बच्चा गिराने पर भी काफी ज्यादा सुधार हुआ है क्युकी गरीब परिवार की महिलाओं के पास पैसे नहीं होते थे जिस वजह से उन्हें बच्चा गिरना पड़ता है लेकिन राजस्थान सरकार की मदद से या फिर इस योजना की मदद से अब उन्हें एक उम्मीद की किरण नजर आई है जोकि बहुत अच्छी बात है

2 thoughts on “[RJSSY] राजस्थान जननी शिशु सुरक्षा योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन”

Leave a Comment