उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता

उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना:उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा देशभर में महामारी के चलते Mukhyamantri Bal Seva Yojana Uttar Pradesh में शुरू की जिसमें प्रदेश के प्रत्येक लाभार्थी को लाभ पहुंचाने के संपूर्ण प्रयास किए गए, कोरोनाकाल में लोगों को बहुत सी स्वास्थ्य ,आर्थिक संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ा लेकिन साथ ही साथ बहुत से ऐसे वर्ग भी है जिन्हें मानसिक उत्पीड़न का भी सामना करना पड़ा यह मुख्यत  उन बच्चों के लिए दुखद था जिन्होंने महामारी के इस दौर में अपने माता पिता को खो दिया जो बेसहारा हो गए।

देशभर में ना जाने कितने बच्चों ने अपने परिजनों को इस काल में खोया है देश व प्रदेश की इसी स्थिति को देखते हुए ऐसे बच्चों की सहायता के लिए केंद्र व राज्य सरकार अपना संपूर्ण सहयोग देने के लिए तैयार है उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भी मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का शुभारंभ अनाथ बच्चों की सहायता के लिए किया गया है Bal Seva Yojana में प्रदेश के उन सभी बच्चों की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार लेगी जिनके माता-पिता या परिजन कोई भी इस दुनिया में नहीं रहे ,अनाथ बच्चों की भरण पोषण,शिक्षा, स्वास्थ्य संबंधी संपूर्ण जिम्मेदारी प्रदेश सरकार द्वारा ली जाएगी ऐसे बच्चों के लिए बाल गृह ,अनाथालय , शिशु आवास आदि में उनको आश्रय दिया जाएगा।

UP Bal Seva Yojana 2022

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना इसमें बालक और बालिका दोनों के लिए अलग-अलग आश्रम गृह स्थापित किए जाएंगे और प्रदेश सरकार द्वारा यह भी बताया गया है कि बाल सेवा योजना के तहत बालिकाओं की शादी हेतु भी सहायता की जाएगी और जो अनाथ बच्चे कॉलेज या किसी व्यवसायिक शिक्षा में है उनको योजना के तहत टेबलेट या लैपटॉप की सुविधा दी जाएगी उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना में सभी वर्ग के बच्चों को समानता के रूप में देखा जाएगा और उनको सुविधाएं प्रदान की जाएगी महामारी की इस दुखद घड़ी में इन बच्चों के लिए इस तरह का सहयोग प्रदेश सरकार की एक सराहनीय सहयोगी योजना है।

इसे भी जरूर पढ़ें:- यूपी मुर्गी पालन योजना 2022

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2022

योजना का नाममुख्यमंत्री बाल सेवा योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीकोरोना वायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए उत्तर प्रदेश के बच्चे।
उद्देश्यकोरोना वायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2022
आर्थिक सहायता4000 प्रतिमाह
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

इसे भी जरूर पढ़ें:-  यूपी विधवा पेंशन योजना 2022

शादी के लिए आर्थिक सहायता एवं बच्चों को टेबलेट का वितरण

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा आर्थिक सहायता से लेकर कई अन्य सुविधाएं भी प्रदान की जा रही है। जिससे कि अनाथ हुए बच्चे अपना जीवन यापन कर सकें। इस योजना के अंतर्गत सभी पात्र बालिकाओं की शादी के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 101000 की धनराशि प्रदान की जाएगी। इसके अलावा सभी बच्चे जो स्कूल एवं कॉलेज में पढ़ते हैं या फिर व्यावसायिक शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं उनको टैबलेट/लैपटॉप मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।

जिससे कि उनकी पढ़ाई में कोई रुकावट ना आए। यदि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अपनी पात्रता सुनिश्चित करके जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। इस योजना का लाभ उन बच्चों को भी लाभ प्रदान किया जाएगा जिन्होंने अपने लीगल गार्डियन या फिर आय अर्जित करने वाले अभिभावक को कोरोना संक्रमण के कारण खो दिया हो।

₹4000 की आर्थिक सहायता एवं आवासीय सुविधा

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2022 के माध्यम सभी पात्र लाभार्थियों को 4000 की आर्थिक सहायता प्रतिमाह प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता बच्चे की देखभाल के लिए होगी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यह आर्थिक सहायता बच्चे के वयस्क होने तक प्रदान की जाएगी। इसके अलावा सभी बच्चे जिनकी आयु 10 वर्ष या फिर उससे कम है और उनका कोई अभिभावक नहीं है उनको आवासीय सुविधा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से प्रदान की जाएगी।

यह आवासीय सुविधा उनको राजकीय बाल गृह में आवास प्रदान करके प्रदान की जाएगी। जिससे की उन सभी बच्चों की देखभाल हो सके। उत्तर प्रदेश में इस समय लगभग 5 राजकीय बाल गृह है जो की मथुरा, लखनऊ, प्रयागराज, आगरा एवं रामपुर में स्थित है।

Mukhyamantri Bal Seva Yojana

अवयस्क लड़कियों की देखभाल एवं उनकी शिक्षा

वह सभी लड़कियां जो अवयस्क है उनको आवास एवं शिक्षा प्रदान करने की जिम्मेदारी भी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से उठाई जाएगी। सभी पात्र लड़कियों को भारत सरकार द्वारा संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय, प्रदेश सरकार द्वारा संचालित राजकीय बाल ग्रह एवं अटल आवासीय विद्यालय के माध्यम से शिक्षा एवं आवास प्रदान किया जाएगा। इस समय प्रदेश में लगभग 13 बाल गृह संचालित किए जा रहे हैं एवं 17 अटल आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। सभी अवयस्क बालिकाओं की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए यह योजना आरंभ की गई है। अब  देश की बालिकाएं मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ प्राप्त करके अपना जीवन यापन कर पाएंगी।

इसे भी जरूर पढ़ें:-  यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना 2022

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए पात्रता 

  • उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना मैं जिन बच्चों ने अपने माता-पिता दोनों को करोना महामारी के दौरान खोया है उन्हें सहायता प्रदान की जाएगी 
  • मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना में उन बच्चों को भी सम्मिलित किया जाएगा जिन्होंने अपने माता-पिता में से आय अर्जित करने वाले अभिभावक को खोया है
  • मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए वही बच्चे पात्र होंगे जिनके माता-पिता उत्तर प्रदेश के निवासी है।

UP Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021 के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण

इसे भी जरूर पढ़ें:- यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2022

UP मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के आवश्यक तथ्य

  1. यदि बच्चा अनाथ हो गया है लेकिन उसका कोई Guardian / Legal care Taker हो तो उसे बच्चे की देखभाल के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 4000 की प्रतिमाह वित्त राशि प्रदान की जाएगी
  2. योजना के अंतर्गत यदि बच्चा 10 वर्ष की आयु से कम है और उसका कोई भी परिजन /Guardian/ Care Taker/ Extended family  कोई भी नहीं है तो ऐसी परिस्थिति में प्रदेश सरकार द्वारा संचालित राजकीय बालगृह मैं उससे आश्रय दिया जाएगा ,उत्तर प्रदेश में पांच राज्य किया बाल गृह संचालित है जो मथुरा ,लखनऊ, प्रयागराज ,आगरा एवं रामपुर में स्थित है
  3. मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अनाथ बच्चों की शिक्षा और देखभाल की जिम्मेदारी भी ली गई है वह भारत सरकार और प्रदेश सरकार द्वारा संचालित अटल आवासीय विद्यालय और बालिकाओं के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में उनकी पढ़ाई लिखाई पूरी करवाई जाएगी
  4. उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री सेवा योजना में उन अनाथ बच्चों की जब बच्चियों की शिक्षा पूरी होने के बाद बालिकाओं की शादी के लिए भी राज्य सरकार द्वारा ₹101000 की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जाएगी
  5. उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री सेवा योजना में ऐसी बच्चों को भी शामिल किया गया है जो हाल ही में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं वह किसी सरकारी स्कूल सरकारी कॉलेज या व्यावसायिक शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं तो ऐसे अनाथ बच्चों को भी प्रदेश सरकार द्वारा लैपटॉप या टेबलेट की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यह जिम्मेदारी महिला कल्याण विभाग को दी गई है कि वह प्रत्येक जिले / जनपदों के डीएम को ऐसे बच्चों की सूची तैयार कर भेजने के आदेश दिए हैं।

इसे भी जरूर पढ़ें:- यूपी बीसी सखी योजना 2022 ऑनलाइन फॉर्म

जिसमें सूचनाओं को जिला प्रशासन ,चाइल्ड लाइन किशोर पुलिस ,इकाई गैर सरकारी संगठनों ,ब्लॉक एवं ग्राम बाल संरक्षण समितियों ,कोविड-19 के लिए विभिन्न स्तरों पर गठित कमेटियों को सूचना पहुंचाने के लिए कहा गया है।

आग्रह किया गया है कि प्रत्येक व्यक्ति अपने स्तर पर आकर करोना में बेसहारा हुए इन्हीं बच्चों और जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आए और सहायता करें सरकारी अधिकारी तक इनकी बात पहुंचाए वह शहरी ,ग्रामीण किसी भी क्षेत्र से संबंध रखता हो।

1 thought on “उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता”

Comments are closed.