Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana 2022 MP|Online Apply

mukhyamantri teerth yatra yojana mp|mukhyamantri tirth yatra yojana mp|mukhyamantri tirth darshan yojana|mukhyamantri teerth darshan yojana|mukhyamantri tirth yatra yojana:मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना फिर से शुरू हो चुकी है। बीते दिनों खबर सामने आई थीं कि इस बार सरकार हवाई जहाज से भी तीर्थ क्षेत्र का दर्शन करवाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्य के मंत्री भी यात्रियों के साथ सफर करेंगे। अब शिवराज सरकार की तरफ से अयोध्या और काशी की यात्रा कराई जाएगी। आइए जानते हैं कैसे इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना को सरकार ने फिर से शुरू कर दिया है। इसके तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। वहीं कई जिलों में यात्रा का आरंभ हो चुका है।

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मध्य प्रदेश के 60 वर्ष से ज्यादा आयु वाले नागरिकों के लिए मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश में उपलब्ध सभी तीर्थ स्थलों में से किसी एक तीर्थ स्थल पर निशुल्क तीर्थ यात्रा सरकार की ओर से उपलब्ध करवाई जाएगी। इसी के साथ तीर्थ यात्रा करने वाले नागरिकों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं जैसे कि खाने-पीने की सामग्री, रुकने की व्यवस्था आदि भी उपलब्ध करवाई जाएगी। Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana 2022 के अंतर्गत वह सभी नागरिक जिनकी आयु 60 वर्ष से ऊपर है या फिर 60% से ज्यादा विकलांग है वह अपने साथ अपनी देखभाल के लिए एक सहायक को भी ले जा सकते हैं।

mukhyamantri tirth yatra yojana mp

इस योजना के तहत श्री बद्रीनाथ, केदारनाथ, जगन्नाथ पुरी, द्वारकापुरी, हरिद्वार, अमरनाथ, वैष्णोदेवी, शिर्डी, तिरुपति, काशी, गया, अमृतसर, रामेश्वरम्, श्रवणबेलगोला, नागपट्टनम, कामाख्या देवी, गिरनार जी, पटना साहिब, उज्जैन, मेहर, श्री रामराजा मंदिर ओरछा, ओंकारेश्वर, महेश्वर, सोमनाथ, और ऋषिकेश पर घूमाया जाता है।मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत इस बार वरिष्ठ नागरिक अयोध्या-वाराणसी (काशी), रामेश्वरम, तिरूपति, वैष्णोदेवी, द्वारका-सोमनाथ की यात्रा कर सकेंगे। धार्मिक न्यास तथा धर्मस्व विभाग मध्यप्रदेश शासन ने ट्वीट करके इसकी जानकारी साझा की है।जो भी वरिष्ठ नागरिक यह धर्मिक यात्रा करना चाहता है वह इन दो दिनों के अंदर विभाग द्वारा मांगे गए दस्तावेज लेकर आवेदन कर सकता है।

MP Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana 2022

योजना का नाममध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना
किस ने लांच कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यनिशुल्क तीर्थयात्रा प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटtirthdarshan.mp.gov.in
साल2022

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सभी जानते हैंआज भी हमारे देश में बहुत ऐसे बुजुर्ग लोग हैं जो बहुत गरीब होने की वजह से तीर्थ यात्रा नहीं कर पाते हैं जिससे  उनका सपना पूरा नहीं होता है। इन सभी बातो को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत की गयी है। MP Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana 2022 के तहत मध्यप्रदेश के बुजुर्ग लोग जिनकी उम्र 60 साल पूरी हो गयी है वह देश में तीर्थ स्थलों में से किसी एक तीर्थ स्थल में फ्री में जा सकते हैं। बुजुर्ग लोगो को इसके साथ-साथ इन यात्राओं पर सभी तरह की सहायता दी जाएंगी जैसे रुकने की व्यवस्था जहां आवश्यक हो बस से यात्रा तथा  खाने-पीने की सामग्री गाइड व आदि सहायता। एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना का मुख्य उद्देश्य है कि प्रदेश के बुजुर्ग लोगो का सपना पूरा किया जाए जिससे वह आत्मनिर्भर व शक्तिशाली बने। 

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन योजना 2022

एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लाभ एवं विशेषताएँ

  • इस योजना के तहत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 3 अगस्त 2012 को शुरू की गई थी।
  • इस योजना के अंतगर्त राज्य के बुजुर्ग लोगो को फ्री में तीर्थ यात्रा करवाई जाएगी।
  • तीर्थ यात्रा के दौरान वरिष्ठ को सभी तरह की सहायता दी जाएगी जैसे चिकित्सा भोजन समिति टूरिस्ट बीमा गाइड आदि  सहायता दी जाएंगी।
  • MP Mukhymantri Tirth Yatra Yojana का लाभ राज्य के 60 साल या उससे ज्यादा साल के लोग ले सकते हैं।
  • यदि राज्य का कोई बुजुर्ग नागरिक इस योजना के तहत यात्रा करता है तो उसकी देखभाल के लिए एक सहायक को भी शामिल किया जाएगा।
  • मध्यप्रदेश शासन द्वारा बुजुर लोगो को तीर्थ स्थलों में से किसी एक तीर्थ स्थल पर फ्री यात्रा कराई जाएगी। एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत राज्य के सभी बुजुर्ग लोगो का तीर्थ यात्रा करने का सपना पूरा हो जायेगा। 
  • मध्यप्रदेश शासन धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग से अनुबंधित इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज़्म कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा सभी तरह की सहायता दी जाएंगी।

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री अविवाहित पेंशन योजना

mukhyamantri tirth darshan yojana डॉक्यूमेंट हैं जरूरी

1 आवेदक मध्यप्रदेश का स्थायी निवासी हो।

2 उम्र की सीमा में महिला आवेदकों को 2 साल की छूट दी गई है।

3 आवेदक की उम्र 60 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।

4 आवेदक शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।

5 अवेदक अपना 25 लोगों का ग्रुप बनाकर भी आवेदन कर सकते हैं।

6 3 से लेकर 5 लोगों के समूह के साथ भी एक सहायक जा सकता है।

7 जो भी आवेदक 60% से ज्यादा दिव्यांग है, उसके साथ एक सहायक होना चाहिए।

आवेदक अपना आवेदन आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटो, आयु प्रमाण पत्र, स्थाई निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र के साथ जनपद कार्यालय, तहसील कार्यालय या कलेक्ट्रेट कार्यालय में जमा करें।

राज्य के जो इच्छुक वरिष्ठ नागरिक मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

इस योजना को भी जरूर पढ़ें:- मध्य प्रदेश अनुकम्पा नियुक्ति योजना

एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया
एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी।
  • इसे आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं
  • डाउनलोड करने के बाद आपको इसका प्रिंट आउट निकालना होगा।
  • प्रिंट आउट निकालने के बाद में पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको अपने जरूरी दस्तावेज़ अटैच करने होंगे
  • दस्तावेज अटैच करने के बाद आपको इस शाम को तहसील, उप तहसील कार्यालय, नगर पालिका, नगर निगम, जनपद पंचायत कार्यालय में जाकर जमा कर देना है
  • इस प्रकार आपका आवेदन पूर्ण हो जाएगा।

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना क्या है?

इस योजना के तहत, सरकार उस नागरिक को मौका प्रदान कर रही है जो अपने स्वयं के खर्च किए गए धन के लिए तीर्थ यात्रा में जाने में असमर्थ है।

तीर्थ दर्शन योजना कब शुरू हुई?

इस योजना के तहत पहली ट्रेन 3 सितम्बर, 2012 को भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन ( वर्तमान नाम कमलापति रेलवे स्टेशन) से शुरू हुई थी, जो कि रामेश्वरम के लिए रवाना की गई थी

तीर्थ यात्रा करने वाले व्यक्ति को क्या कहते हैं?

हिन्दू धर्म में यात्रा करने का बहुत महत्व है। इसीलिए इस धर्म में तीर्थ यात्री, परिव्राजक और परिक्रमा जैसे शब्द हैं

Leave a Comment